फिल्म में अगर हीरो-हीरोइन प्रमुख होते हैं तो उनके साथ ही साथ एक विलेन का किरदार भी अपनी एक अलग पहचान छोड़ देता है. बॉलीवुड में पुरुष विलेन के साथ महिला विलेन ने भी अपनी पहचान बनाई है। हम आपको ऐसी अभिनेत्रियों के बारे में बता रहे हैं जिन्होंने अपने नेगेटिव किरदार से तालियां बटोरी हैं।

विशाल भारद्वाज की फिल्म ‘मकबूल’ विलियम शेक्सपीयर के नाटक ‘मैकबेथ’ पर आधारित थी। पंकज कपूर, इरफान और पीयूष मिश्रा की एक्टिंग तो गजब थी ही, साथ में तबू ने भी बिंदास एक्टिंग की थी। उनका रोल काफी डार्क शेड वाला था।

बॉलीवुड फिल्म ‘एतराज’ में प्रियंका चोपड़ा ने एक पावरफुल बॉस का किरदार निभाया था। फिल्म में इस किरदार की वजह से चोपड़ा ने आलोचकों की तालियां बटोरी थी। इस फिल्म में प्रियंका चोपड़ा अपने कार्यालय के जूनियर यानी अक्षय कुमार के प्यार को पाने के लिए सभी तरीके अपनाती नजर आईं। उनकी इस खलनायिका की भूमिका ने उन्हें अवार्ड भी दिलवाया

फिल्म खाकी’ में ऐश्वर्या ने बैड रोल प्ले किया है। अक्षय उससे मोहब्बत करता है लेकिन लड़की खाली स्टेडियम में बंदे को मरवा देती है। ये एक चौंकाने वाला प्रयोग था जिसमें अजय देवगन ने पहली बार विलेन का रोल निभाया था।

साल 1997 में आई फिल्म ‘गुप्त’ में काजोल ने एक मनोरोगी हत्यारे की शानदार भूमिका निभाई थी। उनकी इस फिल्म ने बड़े पर्दे पर धूम मचाई थी। यह फिल्म 1997 की हिट फिल्मों में से एक थी। इस फिल्म ने काजोल के फ़िल्मी करियर को नया जीवन दे दिया और वो आगे चलकर बॉलीवुड की सफल अभिनेत्रियों में शामिल हो गयी.